पत्नी प्रेमी के साथ गिरफ्तार

पत्नी ने प्रेमी संग की थी पति की गला रेतकर हत्या की कोशिश

  • शरद गुप्ता

गोरखपुर। कलयुग में कुछ भी होना नामुमकिन नहीं है प्यार में बाधक बन रहे पति को पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर मौत के घाट उतारने की की थी कोशिश। मरा समझकर रेलवे लाइन के किनारे पत्नी प्रेमी के साथ फरार हो गयी सोमवार की सुबह एक 40 वर्षीय व्यक्ति की उसकी पत्नी द्वारा ही प्रेमी संग मिलकर गला रेतकर हत्या करने की कोशिश करने का मामला सामने आया था पति को मरा समझ पत्नी कैंट इलाके के छावनी रेलवे क्रॉसिंग के पास पति को छोड़ प्रेमी संग फरार हो गई थी।

घायल के होश में आने के बाद उसने पुलिस के सामने घटना का राजफाश कर दिया। इसके बाद पुलिस उसकी पत्नी प्रीति और प्रेमी शशिकांत को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही। उनके साथ चार बच्चे भी हैं। वहीं, बीआरडी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों के मुताबिक में भर्ती घायल अब खतरे से बाहर है। घायल व्यक्ति की पहचान बेतिया बिहार का रहने वाले फरेंद्र शर्मा के रुप में हुई है। वह यहां शाहपुर इलाके के झरना टोला में किराए का मकान लेकर परिवार के साथ रहता था।

पुलिस मामले की पड़ताल में जुट गई है। घायल की पत्नी का प्रेम संबंध चल रहा था। इस बात को लेकर दोनों में कई बार विवाद भी होता रहा । शुरूआती पूछताछ में जो मामला सामने आया है उसमें पत्नी ही प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कराना चाहती थी। सोमवार की सुबह उसकी हत्या करने के लिए ही गर्दन काटी गई थी लेकिन वह बच गया।उसका गला धारधार हथियार से करीब 70 फीसदी से अधिक गला काटा गया था।

इस बीच वहां से गुजर रहे आरपीएफ जवानों की नजर घायल पर पड़ गई और उन्होंने पुलिस की मदद से घायल को अस्पताल भेजवाया।दोपहर में बीआरडी मेडिकल कॉलेज में घायल व्यक्ति का डॉक्टरों ने सफल आपरेशन किया। मंगलवार को उसके होश में आने के बाद उसकी पहचान हुई। साथ ही घायल द्वारा दिए गए बयान के आधार पर पुलिस ने पत्नी एवं प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया ।

एसपी सिटी ने प्रेस वार्ता कर बताया की पश्चिमी चंपारण बिहार निवासी शशिकांत तिवारी व प्रीति पत्नी फरेदर शर्मा से काफी समय से प्रेम संबंध था जो एक योजना के तहत बिहार से छावनी रेलवे स्टेशन के पास किराए के मकान पर एक माह पूर्व से रहने लगे और मौका पाकर फरेंद्र शर्मा को दारू पिलाकर अचेत अवस्था में दवा कराने के बहाने छावनी रेलवे स्टेशन के पास सुनसान स्थान पर हत्या करने की नियत से गर्दन को चाकू से रेत कर मरा समझकर शशीकांत व प्रीति वहां से भाग गए।

कैंट पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 24 घंटे में सफल अनावरण किया। गिरफ्तार करने वालो में प्रभारी निरीक्षक कैन्ट सुधीर कुमार सिंह एसएसआई प्रविंद्र कुमार राय उप निरीक्षक सुनील कुमार गुप्ता उप निरीक्षक अरविंद कुमार सिंह हेड कांस्टेबल रमेश राय हेतु धीरज कुमार सिंह कांस्टेबल मनोज कुमार कांस्टेबल अवधेश कुमार महिला कांस्टेबल नीतू ने गिरफ्तार किया प्रेस वार्ता के दौरान सीओ कैन्ट जयप्रकाश सिंह भी रहे मौजूद।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button