उमा भारती ने दी औवेसी को नसीहत, ये है यूपी यहां ये सब नहीं चलेगा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में होने वाले 2022 विधानसभा चुनाव को राजनीति दल चुनाव की तैयारी में लगे है।राजनीति दल एक दूसरे पर शब्दभेदी बाण चुनावी तरकस से दना-दन छोड़ रहे है। यूपी विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कई मामलों पर चर्चा की।उत्तर प्रदेश में असदुद्दीन ओवैसी के चुनावी दखल पर उमा भारती ने कहा कि मुझको एंटी मजनू स्क्वायड याद है, उनकी जुबान लड़खड़ाती रहती है।  उमा भारती ने कहा कि वो पहले ओवैसी को एक सभ्य व्यक्ति समझती थीं, लेकिन ये यूपी है यहां ये सब नहीं चलेगा।

आपको बता दें कि ओवैसी ने कुछ समय पहले कहा था कि वह यूपी में लैला बन चुके हैं और यूपी सीएम मजनूं की तरह उन्हें याद करते हैं।यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह को लेकर उमा भारती ने कहा कि वह चाहती हैं कि वो जल्दी से ठीक हो जाएं। राम मंदिर के निर्माण में पहली आहुति कल्याण सिंह ने दी बाद में मोदीजी ने मोर्चा संभाला था।

बसपा के ब्राम्हण सम्मेलन पर उमा भारती ने कहा कि मायावती जी खुद बाहर तो निकलती नहीं हैं और बात ब्राह्मणों की कर रही हैं,मायावती जी का प्रयास विफल होगा।राम मंदिर को लेकर सतीश मिश्र के बयान पर उमा भारती नेता ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री जी ने रामलला के सामने दंडवत प्रणाम किया, वह भूमि पूजन में शामिल भी हुए। ये वहीं बसपा के लोग हैं, जो पहले मंदिर की जगह शौचालय बनाना चाहते थे।उमा भारती ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि शासन-प्रशासन में योगी सरकार ने सही काम किया है, सपा के सारे हथकंडे अब खत्म हो गए हैं।

यूपी चुनाव के नतीजों पर उमा ने कहा कि वह घोषणा करती हैं, कि इस बार बीजेपी को पहले से ज्यादा सीटें मिलेंगी। वहीं, मंत्रिमंडल-मुख्यमंत्री चेहरे पर उमा भारती ने कहा कि जो पार्टी ने कहा है वह उसपर ही रहेंगी।पहले यूपी में मेरा भी चेहरा दिखाया गया, फिर पीएम मोदी का और सीएम योगी का, हम प्रचंड रूप से जीतने वाले हैं, और हमारा चेहरा कमल ही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button