उज्ज्वला 2.0, ‘रथ-ऑन व्हील’: इंडियन ऑइल की अनुठी पहल का गोरखपुर से शुभारंभ

शरद गुप्ता

गोरखपुर। माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 10 अगस्त, 2021 को महोबा से उज्ज्वला 2.0 के आगाज़ के बाद माननीय मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश के करकमलों द्वारा 24 अगस्त, 2021को दस राज्यों, सोनभद्र, बांदा, महोबा, चित्रकूट, रायबरेली, हरदोई, बदायूं, अमेठी, फतेहपुर और फर्रुखाबाद में वर्चुअल माध्यम द्वारा लाभार्थीयों को उज्ज्वला 2.0 के अंतर्गत कनैक्शन बाँटे गए। 20 लाख पोटैन्श्यल के तहत कनैक्शन जल्द से जल्द ज़रूरत मंदो को उपलब्ध कराने का ज़िम्मा ऑइल मार्केटिंग कंपनियों को दिया गया है। जिसमे इंडियन ऑइल की ज़िम्मेदारी सबसे अधिक है।
इसी के अंतर्गत, इंडियन ऑइल, उत्तर प्रदेश राज्य कार्यालय-1 ने लाभार्थियों को जल्द से जल्द सुविधा पहुचाने के लिए उज्ज्वला 2.0, ‘रथ-ऑन व्हील, एक अनुठी पहल का शुभारंभ आज गोरखपुर से किया। डॉ. उत्तीय भट्टाचार्य, कार्यकारी निदेशक एवं राज्य प्रमुख, उत्तर प्रदेश राज्य कार्यालय-1 ने अरुण प्रसाद, महाप्रबंधक (एलपीजी), यूपीएसओ-1, नितेश श्रीवास्तव, महाप्रबंधक (एलपीजी- सेल्स), यूपीएसओ-1, गोरखपुर कार्यालय मण्डल के प्रमुख, मुनीश गुप्ता एवं अन्य आधिकारीगनों की उपस्थिति में हरी झंडी दिखाके चार उज्ज्वला रथ-ऑन व्हील को रवाना किया।
इस अवसर पर बात करते हुए डॉ. भट्टाचार्य ने कहा, “यह रथ विशेष रूप से वंचित ग्रामीण आंतरिक क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों की महिलाओं की सुविधा के लिए डिजाइन किया गया है। ई-केवाईसी को अपडेट करने के लिए लैपटॉप, बायो-मीट्रिक डिवाइस से लैस यह रथ आधुनिक सोलर पेनल से संचालित होता है, जो इनवर्टर को पावर बैकअप देता है। यह पहल खास करके उज्ज्वला 2.0 के लिए ऑनसाइट सीडिंग केवाईसी/ई-केवाईसी के संग्रह की सुविधा गोरखपुर रुरल और उसके आस पास के जिले जैसे संतकबीर नगर, देवरिया, बस्ती, कुशीनगर, सिद्धार्थ नगर, महाराजगंज में एलपीजी के सुरक्षित उपयोग के बारे में जागरूकता फैलाने को ध्यान में रखते हुए की गई है। इसके साथ यह जनता को ‘छोटू’, 5 किलो एफटीएल, एवं नॉन एफटीएल सिलिंडर, 19 किलो कमर्शियल सिलिंडर, आधुनिक एक्स्ट्रा-तेज एलपीजी की विशेषताओ के बारे में भी जानकारी देगा। इन सभी सिलिंडर की प्रतिलिपी भी इस रथ में होगी।“

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button