कोरोना से जंग में बेहद प्रभावी साबित हुआ ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट का हथियार

24 घंटे के दौरान नए संक्रमण के मामले सिर्फ 700। अब महज तीन जिलों में ही सक्रिय रोगियों की संख्या 600 से ऊपर।

लखनऊ :  पहले चरण की तुलना में 30 से 50 गुना अधिक संक्रामक कोरोना के खिलाफ दूसरे चरण के जंग में ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट का हथियार बेहद प्रभावी साबित हुआ। पिछले 24 घंटे के आंकड़े इसके सबूत हैं। इस दौरान संक्रमण के नए मामले 38055 (24 अप्रैल)से घटकर 700 पर सिमट गए। इसकी तुलना में स्वस्थ्य होने वालों की संख्या रही 2860 कुल सक्रिय केसेज 15600 पर आ गए। 30 अप्रैल को ये सर्वाधिक 3.10 लाख के करीब थे। अब सिर्फ तीन (मेरठ लखनऊ और गोरखपुर ) ही जिलों में सक्रिय रोगियों की संख्या 600 से अधिक है। मसलन बाकी जिले कोरोना कर्फ्यू से मुक्त होंगे। यही नहीं इस दौरान किसी जिले से 100 से अधिक संक्रमण के नए केस नहीं आए। दो जिलों से से एक भी केस नहीं आया।

45 जिलों यह संख्या इकाई में और बाकी मे दहाई में रही। पॉजिटिविटी रेट लगातार सुधरते हुए 98 फीसद के करीब पहुंच गई। टेस्ट और टीकाकरण दोनों में मामलों में यूपी देश में नंबर एक पर बना हुआ है। उत्तर प्रदेश इकलौता राज्य है जहां पांच करोड़ से अधिक लोगों के टेस्ट किए जा चुके हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान 3.10 लाख टेस्ट हुए।

टेस्ट और टीकाकरण दोनों में नंबर एक पर है यूपी
सरकार का पूरा फोकस अब टीकाकरण पर है। सीएम योगी ने अगस्त तक 10 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। लिहाजा युद्ध स्तर पर टीकाकरण की मुहिम जारी है। इस क्रम में अब तक दो करोड़ से अधिक लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button