गोरखपुर में सारस पक्षी के प्रवास स्थल नायागांव का होगा संरक्षण एवं संवर्धन का कार्य – सांसद रवि किशन

शासन और प्रशासन के साथ मिलकर जल के प्रवाह बनाएं रखने के साथ अवैध कब्ज़ा व निर्माण को रोकने के साथ हर संभव उपाय किए जाएगे, विलुप्त हो रहे सारस पक्षी के प्रजाति को संरक्षित और सुरक्षित करना यह हम सभी की जिम्मेदारी है l

गोरखपुर! गोरखपुर महानगर में अनेक प्रकार की खूबसूरत और ऐतिहासिक धरोहरे मौजूद है, इनमें से ही एक अद्भुत और प्राकृतिक संपदा के रूप में सारस पक्षी का बसेरा भी एक बेहतरीन धरोहर है जिनके संरक्षण एवं संवर्धन की जरूरत है l राजेंद्र नगर कॉलोनी पश्चिमी रोहिणी नदी के निकट नया गांव में इन दिनों सारस पक्षियों के प्रवास स्थल पर आप एक अद्भुत नजारा देख सकते है, इस अद्भुत प्राकृतिक स्थल को संरक्षित करने से सारस पक्षी की आने जाने की संख्या बढ़ेगी तो वही और भी खूबसूरत नजारा गोरखपुर वासियों को देखने को मिलेगा l यह आकर्षण का एक केंद्र होगा l

सांसद रवि किशन शुक्ला ने कहा कि फोटोग्राफर धीरज सिंह ने मुझ से मुलाकात करके सारस पंक्षियों के नया गांव स्थित प्रवास स्थल को संरक्षित करने की मांग किया था,निश्चित रूप से यह एक गंभीर विषय है, धीरज स्वयं के प्रयास से इस विषय पर कार्य कर रहे है, इनके द्वारा कुछ समस्याओ से भी अवगत कराया गया है जिसका समाधान अवश्य किया जाएगा l मेरा प्रयास होगा की गोरखपुर शासन और प्रशासन के साथ मिलकर पानी के प्रवाह को बनाए रखने के साथ ही साथ सारस पक्षी के संरक्षण का कार्य हेतु योजना बनाकर कार्य किया जाए l सांसद ने कहाँ की प्रकृति की अमूल्य धरोहर जो विलुप्त हो रहे है उनमे से एक सारस पक्षी के प्रजाति को संरक्षण करना सुरक्षित करना यहहम सभी की जिम्मेदारी है हम सब उन्हें इस अद्भुत स्थल को सजाने और संवारने का कार्य करेंगेl

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button