03 महीने में हर ग्राम पंचायत का होगा अपना ग्राम सचिवालय

– यूपी की 33577 ग्राम पंचायतों में तेजी से किया जा रहा मरम्मत और विस्तार का कार्य
– ग्राम पंचायतों में बनाए जा रहे 24617 नए पंचायत भवन, निर्माण का काम वित्त आयोग एवं मनरेगा भी करेगा
– ग्राम सचिवालयों में फर्नीचर, कम्प्यूटर, इंटरनेट की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश
– ग्राम सचिवालयों में जनसेवा केन्द्र भी होगा और बैँकिंग की सेवा देने के लिये बीसी सखी भी बैठेंगी

लखनऊ । पहली बार उत्तर प्रदेश में ग्राम पंचायतों का अपना ग्राम सचिवालय और पंचायत भवन होगा। इनमें गांव के लोगों को आसानी से सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ तो मिलेगा ही साथ में बैकिंग की सेवा भी उपलब्ध होगी। सभी नवीन और अत्याधुनिक उपकरणों से युक्त ग्राम सचिवालय का भवन देखते ही बनेगा। इसमें जनसुविधा केन्द्र भी होगा और बैंकिंग की सेवा देने के लिये बीसी सखी भी बैठेगी।

ग्राम पंचायतों की कार्यप्रणाली को व्यवस्थित स्वरूप प्रदान करने के लिये प्रदेश सरकार बड़ी तेजी से काम कर रही है। सरकार ने इसके लिये अगले 03 महीने में सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सचिवालय और ग्राम पंचायत भवनों की स्थापना के निर्देश दिये हैं। सरकार की इस पहल से गांव के लोगों को बड़ी सुविधा मिलेगी। विकास कार्यों को गति मिलने के साथ ग्रामवासियों की समस्याएं पहले से कम समय में निस्तारित हो सकेंगी।

यूपी की 33577 ग्राम पंचायतों में पहले से ही पंचायत भवन निर्मित हैं। इन पंचायत भवनों में मरम्मत और विस्तार की कार्रवाई को अगले 03 माह में पूरा करने के लिये अधिकारियों से कहा गया है। सरकार की योजना प्रदेश में 24617 पंचायत भवन निर्मित करने की है। इनमें से 2088 आर.जी.एस.ए के तहत बनाए जाने हैँ। जबकि 22529 वित्त आयोग एवं मनरेगा के तहत स्वीकृत कर निर्मित करने हैं।

इन सभी 24617 निर्माणाधीन पंचायत भवनों को भी सरकार ने युद्ध स्तर पर अगले 03 महीने में पूरी तरह से तैयार करने को कहा है। सरकार ने ग्राम सचिवालय को फर्नीचर व इक्युपमेंट की आपूर्ति करते हुए उन्हें सुसज्जित करने। उनमें कम्प्यूटर, इंटरनेट आदि की व्यवस्थाओं को पूरा करने को कहा है। सरकार की योजना ग्राम सचिवालयों में गांव के लोगों की सुविधा के लिये जनसेवा केन्द्र की स्थापना करना और बीसी सखी के लिये भी जगह उपलब्ध कराना है।

योगी सरकार में पंचायतीराज व्यवस्था को मिली मजबूती

गांव-गांव में विकास को रफ्तार देने के लिये पंचायतीराज व्यवस्था को मजबूत करने में जुटी राज्य सरकार ने सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत कार्यालय भवन की मरम्मत, विस्तार और नव-निर्माण का कार्य तेजी से किया है। ग्राम सचिवालयों की स्थाप्ना भी सरकार का अभिनव प्रयोग है जिससे आने वाले समय में ग्रामीण जनता को बड़ा फायदा होने वाला है।

गौरतलब है कि प्रदेश में सत्ता की बागडोर संभालने के बाद से ही मुख्यमंत्री यागी आदित्यनाथ ने गांव के प्रत्येक व्यक्ति तक सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने के प्रयास किये हैं। गांव-गांव में स्वच्छता पर जोर देने के लिये विशेष स्वच्छता अभियान चलाए हैं। गांव की महिलाओं से सशक्त बनाने के प्रयास किये हैं। इतना ही नहीं कोरोना काल में भी गांव-गांव तक चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के साथ जीवन और जीविका को बचाने का बड़ा कार्य किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button