अकूत संपत्ति के मालिक हैं किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत

यूपी,महाराष्‍ट्र समेत देश के चार राज्‍यों में राकेश टिकैत की संपत्ति  .दिल्‍ली, मुंबई,नाएडा समेत देश के 13 बड़े शहरों में टिकैत के पेट्रोल पंप, जमीन .टिकैत के बेटे चरण सिंह की देश की कई कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनियों में बेनामी पार्टनरशिप . हरिद्वार में टिकैत की 75 बीघा बेनामी जमीन,उनके गांव सिसौली में 110 बीघा जमीन . कई शहरों में टिकैत और उनके परिवार के कार शो रूम, गाजियाबाद में वाटर प्‍लांट . झांसी,लखीमपुर खीरी,ललितपुर और गौतमबुद्ध नगर में टिकैत की करोड़ों की बेनामी जमीन .टिकैत के धरने पर लेकिन उनकी कंपनियां कर रही लाखों का कारोबार .

लखनऊ । दिल्‍ली की सीमा पर प्रदर्शन कर रहे किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत अकूत संपत्ति के मालिक हैं । उत्‍तर प्रदेश,दिल्‍ली समेत देश के चार राज्‍यों में टिकैत की बड़ी चल और अचल संपत्तियां हैं । देश के 13 बड़े शहरों में टिकैत के पेट्रोल पंप,कार शो रूम, वाटर प्‍लांट और कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनियां हैं। राकेश टिकैत की उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, दिल्‍ली और महाराष्‍ट्र में बड़ी संपत्‍तयिां हैं । राकेश टिकैत के पास करीब 80 करोड़ रुपये से ज्‍यादा की संपत्ति का अनुमान है ।

देश के 13 बड़े शहरों मुजफ्फर नगर, दिल्‍ली ,रुड़की ,ललितपुर, झांसी, लखीमपुर खीरी , बदायूं, देहरादून, हरिद्वार, बिजनौर, नोएडा, गाजियाबाद, मुंबई में टिकैत की करोड़ों की नामी और बेनामी संपत्तियां हैं । टिकैत के अपने गांव सिसौली में 110 बीघा जमीन है जो उनके और उनके परिवार के नाम पर दर्ज हैं। टिकैत के कुबने को इससे हर साल लाखों रुपये की आमदनी होती है। चीनी मिलों से मिले आंकड़ों के मुताबिक दिल्‍ली सीमा पर जिस वक्‍त राकेश टिकैत धरना दे रहे थे उस दौरान उनका 2250 क्विंटल गन्‍ना चीनी मिलों में पहुंच चुका था।

हरिद्वार के इकबालपुर गांव में टिकैत की 75 बीघा बेनामी जमीन है जिसकी अुनमानित कीमत साढ़े तेरह करोड़ रुपये से ज्‍यादा है । ललितपुर और गौतमबुद्ध नगर में भी टिकैत की बड़ी बेनामी जमीन है। झांसी,लखीमपुर खीरी बिजनौर में रिश्‍तेदारों के नाम पर टिकैत की जमीन और फार्म हाउस हैं। टिकैत के पास चार से पांच पेट्रौल पंप, कार का शो रूम और कई होटल हैं। कंस्‍ट्रक्‍सन कंपनी का काम भी है। मुजफ्फर नगर शामली के बीच हाइवे के किनारे जीआर इंफ्रा प्रोजेक्‍ट में राकेश टिकैत के बेटे चरण सिंह की बेनामी पार्टनरशिप राजस्‍थान के बिल्‍डर के साथ है। इस कंपनी पर अवैध मिट्टी खनन को लेकर कार्रवाई भी हो चुकी है। माटियान कंस्‍ट्रक्‍सन लिमिटेड में भी टिकैत के बेटे की बेनामी पार्टनरशिप है ।

रुड़की में होटल, कार शो रूम और कई पेट्रोल पंपों में राकेश टिकैत की पार्टनरशिप बताई जा रही है। महेंद्र सिंह टिकैत के पुराने साथी और उनके सलाहकार रहे चौधरी वीरेंद्र सिंह भी राकेश की अकूत संपत्ति और जमीन व पेट्रोल पंप से लेकर कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनी तक फैले राकेश और उनके बेटे के कारोबार की पुष्टि करते हैं। चौधरी वीरेंद्र सिंह कहते हैं कि यह तो साफ है कि धंधा बहुत बड़ा है। लिविंग स्‍टैण्‍डर्ड ही बताता है कि पैसा बहुत बड़ी तादाद में और तेजी से आ रहा है । अब कहां से आ रहा है यह जानकारी हमें नहीं है।

पश्चिम यूपी में राकेश टिकैत के कई ईंट भट्ठे भी चल रहे हैं। गाजियाबाद में वाटर प्‍लांट है। दिल्‍ली,नोएडा,मुंबई में संदीप शर्मा के नाम के व्‍यक्ति के जरिये टिकैत ने लाखों की प्रापर्टी खरीद रखी है। अल्‍पाइन कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनी में भी राकेश टिकैत के बेटे की पार्टनरशिप है। मुजफ्फर नगर के कई पेट्रोल पंपों में राकेश टिकैत की छिपी हिस्‍सेदारी है। रुड़की में भी मारुति शो रूम और पंप के साथ गाजियाबाद, दिल्‍ली में होटल में बेनामी पार्टनरशिप टिकैत और उनके बेटे के नाम पर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button