जिले में एक भी कोरोना का मरीज नहीं मिला

शरद गुप्ता

गोरखपुर। कोरोना महामारी फैलने के बाद पहली बार गोरखपुर में एक शुभ समाचार निकल कर सामने आई है। कोरोना फैलने के बाद से 10 महीने में पहली बार ऐसा हुआ की बुधवार को जिले में एक भी कोरोना का मरीज नहीं मिला है। करीब एक हजार से अधिक नमूनों की जांच भी पिछले 24 घंटे के अंदर की गई है। ऐसे में विभाग ने राहत की सांस ली है। क्योंकि अब तक पिछले साल 26 जुलाई के बाद से हर दिन कोविड के मरीज जिले में मिलते रहे हैं।जानकारी के मुताबिक जिले में पहला केस पिछले साल 26 जुलाई को उरुवा के हाटा बुजुर्ग के रहने वाले 49 वर्षीय व्यक्ति के रूप में मिला था। व्यक्ति दिल्ली से आया था। ठीक होने के एक सप्ताह बाद व्यक्ति की मौत भी हो गई थी। इस दिन के बाद से 23 फरवरी तक लगातार कोविड के मरीज मिलते रहे हैं।

अगस्त और सितंबर माह में तो स्थिति ऐसी हो गई थी कि हर दिन मरीजों का आंकड़ा 200 के पार जा रहा था। यहां तक की सबसे अधिक 420 मरीज भी जिले में मिल चुके हैं।इसके बाद से विभाग के सामने कई मुश्किलें खड़ी हो गई थीं। लेकिन इसके बाद धीरे-धीरे मरीजों की संख्या कम होती गई। जनवरी में आंकड़ा दहाई के अंदर आ गया था। फरवरी महीने में तो 10 फरवरी से इक्का-दुक्का ही मरीज मिलते रहे हैं। इस बीच 24 फरवरी को पहला ऐसा दिन था जिस दिन एक भी केस नहीं मिले। सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार अब एकदम कम हो चुकी है। 10 माह में पहला ऐसा दिन है कि एक भी कोविड का मरीज नहीं मिला है।यह आने वाले दिनों के लिए अच्छा संकेत है। अगर यही क्रम बरकरार रहता है तो जल्द ही जिले को कोरोना मुक्त घोषित कर दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button