कोविड -16 अस्पतालों को भेजा नोटिस तो लौटाने लगे वसूली के पैसे

  • शरद गुप्ता

गोरखपुर :कोरोना के बढ़ते मामले के बीच उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से ओवर चार्जिंग को लेकर लगातार शिकायतें आ रही हैं। जिसे देखते हुए जिले के कमिश्नर जयंत नार्लिंकर ने जांच के लिए एक कमिटी बनाई है। कमिटी ने शहर के 17 अस्पतालों को नोटिस भेजा, जिसके बाद 5 अस्पतालों के संचालकों ने कमिटी के अधिकारियों से माफी मांगते हुए शिकायतकर्ता के पैसे जल्द लौटाने का भरोसा दिया है।

16 अस्पताल से 21 शिकायत,भेजा नोटिस

पिछले 20 दिनों के भीतर शहर में बनाए गए कोविड हॉस्पिटल में से 16 अस्पतालों से 21 शिकायतें मिली थीं। इसके बाद एडिशनल कमिश्नर ने इन अस्पतालों की सूची तैयार कर जांच के लिए नोटिस भेजा। इनमें निजी बद्रिका हॉस्पिटल, राणा हॉस्पिटल, डिग्निटी हॉस्पिटल, एबीएस हॉस्पिटल, गर्ग हॉस्पिटल, बीएमआरसी हॉस्पिटल, जीवनदीप हॉस्पिटल, मृत्युंजय हॉस्पिटल, आरोही हॉस्पिटल, अभिज्ञा हॉस्पिटल, शिवा हॉस्पिटल, जीवनदीप हॉस्पिटल, बॉम्बे हॉस्पिटल, शाही ग्लोबल हॉस्पिटल, अर्पित हॉस्पिटल व एक अन्य शामिल है। नोटिस मिलने के बाद 5 अस्पतालों ने ओवर चार्जिंग के लिए माफी मांगी और शिकायतकर्ता को पैसे लौटाने की बात कही है। इन निजी अस्पतालों में से सबसे ज्यादा शिकायतें राणा हॉस्पिटल, शिवा हॉस्पिटल, जीवनदीप हॉस्पिटल और आरोही हॉस्पिटल से मिली हैं।

इन 5 हॉस्पिटल ने पैसे लौटाने का दिया भरोसा

राणा हॉस्पिटल, शाही ग्लोबल, डिग्निटी हॉस्पिटल, शिवा हॉस्पिटल, आरोही हॉस्पिटल के संचालको ने शिकायतकर्ता को अतिरिक्त पैसे लौटाने का भरोसा दिलाया है। बता दें इन अस्पतालों ने शिकायतकर्ता से 59 हजार रुपए से लेकर 3 लाख तक अतिरिक्त वसूले हैं। एडिशनल कमिश्नर ने बताया कि शिकायतकर्ता की कम्लेंन मिलने के बाद इन अस्पतालों को नोटिस भेजी गई थी, बद्रिका अस्पताल को प्रशासन ने पहले ही पंजीकरण निरस्त करते हुए सील कर दिया है जबकि अन्य अस्पतालों की जांच की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button