कोविड प्रोटोकॉल के साथ होगा गोरखनाथ खिचड़ी मेले का आयोजन

गोरखपुर । नाथ पंथ के विश्व विख्यात गोरखनाथ मंदिर का प्रसिद्ध मकर संक्रांति मेला (खिचड़ी मेला) इस बार कोविड प्रोटोकॉल के साथ आयोजित होगा। दूरदर्शन व आकाशवाणी के जरिए मेले का सजीव प्रसारण किया जाएगा ताकि अधिकाधिक लोग मेले में वर्चुअल सहभागी हो सकें। गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एनेक्सी भवन में मकर संक्रान्ति की तैयारी के संबंध में आयोजित बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिया कि कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत मकर संक्रान्ति मेले की सभी तैयारी की जाये। मेले में सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन्स के अनुसार सभी बुनियादी सुविधाओं की व्यवस्था की जाये जिससे मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा एंव व्यवस्था उपलब्ध कराया जा सके।

उन्होंने कहा कि मेले भीड़ को नियंत्रित करने तथा सुरक्षा आदि की तैयारी पुलिस प्रशासन सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि मेले के समय वाहन पार्किंग स्थल में खड़े हों, वाहन स्टैण्ड पर प्रकाश एंव साफ सफाई की व्यवस्था हो। मुख्यमंत्री ने जंगल कौड़िया-मोहद्दीपुर के कार्यों को 10 जनवरी तक पूर्ण करने निर्देश दिया। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि अण्डरग्राउंड केबलिंग के कार्य को 20 दिसम्बर तक पूर्ण करने के साथ ही जर्जर पोलों/तारों को भी ठीक करें। उन्होंने नगरनिगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जंगल कौड़िया-मोहद्दीपुर फोरलेन के निर्माण कार्य के दृष्टिगत आस पास के मुहल्लों में जलजमाव की समस्या न हो इसके लिए व्यापक प्रबंध सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि जनपद में साफ सफाई एवं स्वच्छता बेहतर की जाये।

मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये कि मेला क्षेत्र मे पर्याप्त स्थायी एंव अस्थायी प्रकाश व्यवस्था करायें और पर्याप्त संख्या में अलाव जलवाने की व्यवस्था की जाये। उन्होंने निर्देश दिया कि गोरखपुर विकास प्राधिकरण तथा पी.डब्लू.डी. तथा नगरनिगम राष्ट्रीय राजमार्ग तथा अन्य सड़कों को भी ठीक करायें जिससेे मार्ग परिवर्तित करने पर यात्रियों को सुविधा होगी।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि स्वास्थ्य विभाग मेला के दौरान कैम्प लगाये। आपूर्ति विभाग किरोसिन एंव खाद्यान्न का वितरण कराये, वन विभाग जलौनी लकड़ी की व्यवस्था करायें। आकाशवाणी एंव दूरदर्शन मेले का लाइव प्रसारण करें तथा कोरोना से बचाव के लिए भी जागरूक करने के साथ ही पर्व के महत्व के बारे में जानकारी दें। उन्होंने निर्देश दिया है कि मेले के दौरान परिवहन विभाग बसों की पर्याप्त संख्या में व्यवस्था करें, नागरिक सुरक्षा एंव अन्य स्वंय सेवी संस्थाएं भी अपना योगदान देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी रैन बसेरों को ठीक करायें तथा रैनबसेरों में सफाई आदि की व्यवस्था बेहतर हो। बैठक में एडीजी दावा शेरपा, डीआईजी राजेश मोदक, जिलाधिकारी के विजयेंद्र पाण्डियन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button