युवती को अगवा कर पांच युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

तबीयत खराब होने पर एक निजी अस्पताल के बाहर फेंककर भाग गए आरोपी-मेडिकल कॉलेज में हुआ युवती का उपचार, देर शाम परिजन घर लेकर चले गए-मानसिक रूप से कमजोर युवती को महराजगंज से पांच युवकों ने किया था अगवा .

गोरखपुर : मानसिक रूप से कमजोर युवती (18) को अगवा कर पांच युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। युवती की हालत खराब होेने पर गुलरिहा इलाके के भटहट कस्बा स्थित निजी अस्पताल के बाहर अर्द्धनग्न अवस्था में फेंककर फरार हो गए। पुलिस जांच में पता चला कि युवती को महराजगंज के श्यामदेउरवा इलाके से अगवा किया गया था। इसकी जानकारी श्यामदेउरवा पुलिस को दी गई।
युवती का इलाज बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कराया गया, जहां से देर शाम परिजन उसे घर ले गए। परिजनों ने पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी है। पुलिस का कहना है कि शिकायत मिलने पर ही कार्रवाई की जाएगी। गुलरिहा पुलिस के अनुसार, पूछताछ में युवती ने बताया कि सोमवार शाम वह घर से निकली थी। गांव से थोड़ी दूरी पर उसे पांच युवक मिले और झांसा देकर अपने साथ अज्ञात स्थान पर ले गए। वहां शराब के नशे में उन्होंने सामूहिक दुष्कर्म किया। विरोध करने पर मारपीट की। सुबह जब काफी रक्तस्राव होने लगा और उसकी तबीयत बिगड़ गई तो करीब आठ बजे युवक उसे भटहट कस्बे में फेंककर फरार हो गए।
आसपास के लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवती को कपड़े खरीदकर दिए। इसके बाद उसे स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। देर शाम सात बजे श्यामदेउरवा पुलिस उसे लेकर महराजगंज चली गई। हालांकि, पुलिस इससे इनकार कर रही है। उसका कहना है कि युवती को पुलिस नहीं, बल्कि परिजन मेडिकल कॉलेज से घर ले गए। इसके पूर्व सोमवार शाम से ही युवती की तलाश कर रहे परिजन मंगलवार सुबह भटहट स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। उनका कहना था कि युवती को कभी-कभी कुछ देर के लिए दौरा पड़ता है। फिर वह अपने आप ठीक हो जाती है। दौरा पड़ने पर वह अक्सर घर से निकल जाती है। सोमवार को जब वह घर से निकली तो उस समय परिवार को पता नहीं चल सका।
इस बाबत गुलरिहा इंसपेक्टर रवि कुमार राय ने बताया कि घटनास्थल महराजगंज है, लेकिन यहां भी जांच की जा रही है। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से आरोपितों की पहचान की जा रही है। युवती की मानसिक स्थिति ठीक नहीं लग रही है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद सही जानकारी हो पाएगी। उधर, श्यामदेउरवा थानाध्यक्ष विजय राज सिंह ने बताया कि महिला पुलिस के साथ किशोरी के घर जाकर जांच की गई तो पता चला कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं है। वह किसी भी बात का ठीक से जवाब नहीं दे रही है। उनका कहना है कि अगर परिजन तहरीर देते हैं तो उसका मेडिकल कराके आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button